युवक की संदेहास्पद मौत के बाद अस्पताल में आपस में भिड़े परिजन

बालाघाट. वारासिवनी थाना अंतर्गत मशीनटोला वार्ड क्रमांक 01 निवासी 35 वर्षीय शिवा पिता लक्ष्मण सोनवाने को चोटिल होने के बाद 6 नवंबर की देरशाम परिजन जिला चिकित्सालय लेकर पहुंचे थे. जहां ड्युटीरत चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया, बावजूद इसके परिजन उसका ईलाज कराने की बात कहते हुए हंगामा करने लगे. जिससे ड्युटीरत चिकित्सक ने उसे भर्ती करने भिजवा दिया. यहां अस्पताल में ड्यूटीरत नर्स ने उसके ईलाज के लिए प्रक्रिया भी शुरू कर दी, किन्तु बाद में चिकित्सक लांजेवार ने उसे मृत घोषित कर पुलिस को इसकी सूचना भिजवा दी. इस पूरे मामले में शिवा की प्रारंभिक जांच करने वाले चिकित्सक की कार्यप्रणाली सवालांे के घेरे में आ गई है. यदि कोई मृत हो गया तो उसे भर्ती नहीं कराना था और यदि मृतक के परिजन हंगामा मचा रहे थे तो इसकी सूचना अस्पताल चौकी को देनी थी. जबकि अस्पताल में सुरक्षा गार्ड भी मौजूद है, इन सबके बावजूद चिकित्सक द्वारा मृत होने के बाद मरीज को अस्पताल में भर्ती करने भिजवा देना और वार्ड में उसे भर्ती कर उसके ईलाज की प्रक्रिया को किया जाना, कई सवालों खड़े कर रहा है. हालांकि शिवा को चोटें आने की वजह साफ नहीं होने के कारण युवक शिव की मृत्यु को संदेहास्पद मानते हुए अस्पताल चौकी पुलिस प्रभारी कोमेन्द्र बिसेन द्वारा पीएम के बाद जांच के लिए बिसरा जब्त करवा लिया गया है.

आपस में एकदूसरे से भिड़े परिजन

घटनाक्रम के अनुसार युवक शिव हमाल का काम करता था, जो गत 6 नवंबर को सुबह अपने काम पर गया था. जिसके बाद वह अपने घर लौट रहा था. इस दौरान ही घर के पास बिजली खंबे के पास उसे उसके भाई ने गिरा हुआ देखा. जिसके बाद परिजन उसे जिला चिकित्सालय लेकर पहुंचे. जब तक उससे अलग रह रही पत्नी भी जिला अस्पताल पहुंची. जहां अस्पताल परिसर में ही दोनो आपस में भिड़ गये. बताया जाता है कि शिव मशीनटोला में अपने मां और भाई के साथ रहता था. जबकि उसकी पत्नी अलग बालाघाट में निवास करती थी. प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो दोनो पक्षो में हाथापाई भी हुई. जिसमें पत्नी द्वारा पति की हत्या किये जाने की संदेह जाहिर करने पर शिव की मौत को संदेहास्पद मानते हुए दूसरे दिन 7 नवंबर को हुए पीएम के बाद पुलिस ने उसकी जांच के लिए बिसरा बरामद कर लिया है.  

शिव की मौत पर वैनगंगा मजदूर यूनियन ने जताया शोक

शिव हमाली का काम करता था और वह वैनगंगा मजदूर यूनियन का सदस्य भी था. वैनगंगा मजदूर यूनियन के सदस्य शिवा की मौत पर वैनगंगा मजदूर यूनियन के पदाधिकारी विशाल बिसेन और वैभव बिसेन सहित संगठन ने शोक जाहिर करते हुए मृतात्मा की शांति के लिए प्रार्थना की है. वैनगंगा मजदूर यूनियन पदाधिकारी और जनपद सदस्य वैभव बिसेन मृतक शिव के पोस्टमार्टम के दौरान अस्पताल में भी मौजूद रहे. जहां उन्होंने शोकाकुल परिवार को ढांढस बंधाया.  


Web Title : BHIDE IN HOSPITAL AFTER SUSPICIOUS DEATH OF YOUNG MAN