ट्रेक्टर ट्राली पलटने से 7 की मौत, एक दर्जन से ज्यादा घायल

बालाघाट. रामपायली थाना अंतर्गत सुबह लगभग 11 से 11. 30 बजे के बीच चिखलाघाटी से थोड़ा थाने ढलान में टेªक्टर चालक से अनियंत्रित होकर ट्रेक्टर ट्राली पलटने से उसमें सवार सात लोगों की मौत हो गई. जबकि एक दर्जन से ज्यादा घायल हो गये. बताया जाता है कि ट्रेक्टर ट्राली मंे बैठकर तिरोड़ी थाना अंतर्गत धनकोषा निवासी दिवंगत दशरथ पटले का पिंडदान करने पटले परिवार चंदननदी आ रहा था. इस दौरान ही हुए हादसे में 50 वर्षीय महिला शांताबाई पति देवाजी पटले, 60 वर्षीय बिरनबाई पति बलराम पटले, 16 वर्षीय मीना पिता छतरलाल पटले, 7 वर्षीय नव्या पिता राजेन्द्र पटले, 5 वर्षीय गुनगुन पिता शिवशंकर पटले और 13 वर्षीय सपना पिता छत्तरलाल पटले की हादसे में मौत हो गई.

जबकि ़65 वर्षीय दयाराम पिता शोभाराम पटले, 60 वर्षीय देवाराम पिता मीताराम पटले, 43 वर्षीय लोकचंद पिता बेनीराम पटले, 50 वर्षीय सतेन्द्र पिता केशव, 37 वर्षीय उषा पति राजेन्द्र पटले, 11 वर्षीय अमर कुमार पिता शिवशंकर पटले, 10 वर्षीय आरती पिता सौरभ पटले, 40 वर्षीय ओमप्रकाश पिता बलराम पटले, 59 वर्षीय देवाजी पिता मीताजी पटले, 50 वर्षीय ढालेश्वरी पति हीरालाल चौधरी, 65 वर्षीय धुरवंता पति दशरथ पटले, 10 वर्षीय तरूण पिता ओमप्रकाश पटले, 30 वर्षीय श्यामाबाई पति नीलकंठ, 85 वर्षीय भागचंद पिता हरकचंद पटले, 50 वर्षीय दिनदयाल पिता ढालचंद पटले, 46 वर्षीय नीलकंठ पिता दशरथ पटले, 55 वर्षीय रामचंद पिता हरचंद पटले, 38 वर्षीय हंसाबाई पति सतेन्द्र चौधरी, 45 वर्षीय सुलकनबाई पति मूलचंद परिहार और 55 वर्षीय मूलचंद पिता हिरालाल परिहार के घायल होने पर उन्हें जिला चिकित्सालय लाया गया. जहां से गंभीर रूप से घायलो को उपचारार्थ मेडिकल भिजवा दिया गया है.  

बताया जाता है कि घर के ट्रेक्टर को चालक ओमप्रकाश पटले चला रहा था. तिरोड़ी थाना अंतर्गत धनकोषा निवासी दिवंगत दशरथ पटले का पिंडदान करने पटले परिवार अपने अन्य रिश्तेदारों के साथ रामपायली चंदन नदी आ रहा था. चिखलाबांध से आगे चिखलाघाट की ढलान उतरते समय ट्रेक्टर चालक ने ट्रेक्टर को बंद कर उसे न्युट्रल कर ढलान से उतार रहा था. इस दौरान ही चालक ने गेयर लगाकर ट्रेक्टर को स्टार्ट करने का प्रयास किया, तभी ट्रेक्टर असंतुलित होकर पलट गया. जिससे ट्रेक्टर ट्राली में बैठे लगभग 25 से 30 में कुछ नीचे दब गये, जबकि कुछ उछलकर सड़क पर जा गिरे, जिससे उन्हें गंभीर चोटें आने पर तीन लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई. जबकि किसी ने रामपायली अस्पताल तो किसी ने वारासिवनी अस्पताल मंे दम तोड़ दिया. दर्दनाक और हद्रयविदारक इस घटना की जानकारी के बाद मंत्री गौरीशंकर बिसेन अस्पताल पहुंचे और घायलों से मुलाकात की.

मंत्री के पहुंचने के बाद अस्पताल पहुंचे चिकित्सक 

रामपायली क्षेत्र में इतनी बड़ी घटना होने के बाद चिकित्सालय में लगातार घायलों का आना जारी था, किन्तु उस समय एक ही महिला चिकित्सक उन्हें देख रही थी. घटना की जानकारी के बाद जब मंत्री गौरीशंकर बिसेन अस्पताल पहुंचे और वहां उन्होंने चिकित्सको ंको नहीं देखा तो तत्काल दूरभाष पर सीएचएमओ से चर्चा की. जिसके बाद सीएचएमओ श्री पांडेय सहित अन्य चिकित्सक भी अस्पताल पहुंचे और घायलों के उपचार मंे जुट गये. घटना को लेकर मंत्री गौरीशंकर बिसेन ने मृतकों के प्रति शोक संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि घटना दुःखद है. घायलों और उनके परिवार से मुलाकात कर घायलों के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली है. परिवार अपने घायल सदस्यो को लेकर चितिंत है, जिनके उपचार में चिकित्सालय प्रबंधन जुटा हुआ है.


Web Title : DEATH OF 7 FROM THE TRACTOR TROLLEY INVERTED, INJURING MORE THAN A DOZEN