भाजपा में बगावत! संजयसिंह ने छोड़ी पार्टी, गौरव पारधी ने समर्थन जुटाने निकाली रैली,

बालाघाट. भाजपा द्वारा टिकिट घोषणा के बाद भाजपा में बगावत नजर आने लगी है. जहां भाजपा के आजीवन सदस्य और जिला कार्यकारिणी में विशेष आमंत्रित सदस्य संजयसिंह मसानी ने दिल्ली में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ की मौजूदगी में भाजपा पर नामदारों की पार्टी होने और कामदारों का अवहेलना का आरोप लगाते हुए कांग्रेस का थामन नाम लिया है. वहीं भाजपा में वारासिवनी से भाजपा की टिकिट के दावेदार मानें जाने वाले गौरव पारधी ने क्षेत्र में जनता से जनसमर्थन जुटाने के लिए अपने समर्थकों के साथ रैली निकाली और लोगों से जनसमर्थन मांगा. युवा गौरव पारधी का कहना है कि यदि जनता को समर्थन उन्हें मिलेगा तो निश्चित ही वह चुनाव लड़ेंगे. गौरव पारधी भी भाजपा के सक्रिय कार्यकर्ता है और विगत काफी समय से वह वारासिवनी में सामाजिक सेवा के माध्यम से सेवाकार्य में लगे है.  

हालांकि भाजपा अध्यक्ष रमेश रंगलानी ने कहा कि संजयसिंह मसानी के कांग्रेस में शामिल हो जाने से कोई फर्क पार्टी को चुनाव मंे नहीं पड़ने वाला है, पार्टी मंे वे कोई पदाधिकारी भी नहीं थे, मुख्यमंत्री के साले होने के नाते कार्यालय में आना-जाना लगा रहता था. संजयसिंह मसानी को टिकिट नहीं मिलने के कारण वे कांग्रेस में शामिल हुए है, उनका टिकिट के अलावा और कोई उद्देश्य नहीं है. उन्होंने कहा कि गौरव पारधी को पार्टी स्तर पर समझा लिया जायेगा और वह समझ जायेंगे. वारासिवनी से प्रत्याशी बनाये डॉ. योगेन्द्र निर्मल ने कहा कि हम 35 वर्षो से राजनीति में जनता का काम कर रहे है. संजयसिंह मसानी के कांग्रेस में चले जाने पर कहा कि इससे कोई बड़ा फर्क पड़ने वाला नहीं है. उन्होंने गौरव पारधी को लेकर कहा कि हमने अपनी बात उनके समक्ष रख दी है और निर्णय उनको लेना है. हालांकि प्रेस से बात करते हुए भाजपा अध्यक्ष और वारासिवनी प्रत्याशी में चिंता की लकीरो को आसानी से देखा जा सकता था.  

परसवाड़ा से रामकिशोर कावरे ने भरा नामांकन फार्म

बालाघाट. भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार विधानसभा चुनाव-2018 के अंतर्गत विधानसभा प्रतिनिधि के निर्वाचन के लिए 02 नवंबर को संबंधित क्षेत्र के रिटर्निंग आफिसर द्वारा अधिसूचना जारी कर दी गई है. अधिसूचना जारी होने के साथ ही प्रत्याशियों द्वारा नाम निर्देशन पत्र जमा करने का सिलसिला प्रारंभ हो गया है.  

नाम निर्देशन पत्र जमा करने के दूसरे दिन 3 नवंबर को विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-110-परसवाडा से भारतीय जनता पार्टी प्रत्याशी रामकिशोर कावरे ने अपना नाम निर्देशन पत्र रिटर्निंग आफिसर के समक्ष प्रस्तुत किया है. दूसरे दिन विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-108 बैहर, 109-लांजी, 111-बालाघाट, 112-वारासिवनी एवं 113-कटंगी से किसी भी प्रत्याशी ने अपना नाम निर्देशन पत्र जमा नहीं किया है. नाम निर्देशन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि 09 नवंबर 2018 रखी गई है.  

बालाघाट से दूसरे दिन 34 लोगो ने लिया नामांकन फार्म

विधानसभा चुनाव-2018 के अंतर्गत विधानसभा प्रतिनिधि के निर्वाचन के लिए दूसरे दिन 3 नवंबर को बालाघाट से 14 लोगों ने नामांकन फार्म लिया. जिसमें बब्बन खान, हरिचंद्र माहुरे, मधुसुदन शर्मा के लिए दीपक शर्मा ने राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी, शिवसेना से हितेश माहुले, आप से अरविंद चौधरी, दिगंबर पटले, सपाक्स संपूर्ण समाज पार्टी से सुरेशचंद्र रंगलानी, स्वर्णिम भारत इंकलाब की ओर से अमन नावानी, मनराखन (डब्बु) डोहरे, दिपक पटले, भाजपा से संयोग कोचर, डाली दमाहे ने नामांकन फार्म लिया है.


Web Title : MUTINY IN BJP! SAJAYASIH PARTY, GAURAV PARDHI GARNERED SUPPORT, RALLY