परीक्षा निरस्त किये जाने की मांग को लेकर अभ्यार्थियों ने सौंपा ज्ञापन,प्रदेश महिला कांग्रेस महासचिव विद्या परिहार के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट पहुंचे अभ्यार्थी

बालाघाट. एमपीपीईबी के माध्यम से 10 और 11 फरवरी को आयोजित की गई ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी एवं वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी की परीक्षा में हुई गड़बड़ियों की जांच और परीक्षा को निरस्त कराने की मांग को लेकर अभ्यार्थियों ने कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंचकर जिला प्रशासन के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा.  

अभ्यार्थियों का कहना था कि परीक्षा में बड़े स्तर से गड़बड़ियां हुई हैं, क्योंकि एमपीपीईबी के इतिहास में अभी तक जितनी भी परीक्षायें हुई है. उन परीक्षा में किसी भी परीक्षा में अभ्यर्थी ने इतने अंक प्राप्त नही किये है. जितने कि ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी एवं वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी की परीक्षा में प्राप्तांको के संबंध में दावें परीक्षार्थियों के द्वारा किये जा रहे है. महिला कांग्रेस प्रदेश महासचिव विद्या परिहार ने बताया कि अभ्यार्थियों द्वारा बताया गया है कि उक्त परीक्षा में 200 अंक में से 170,175,180,195 अंक के दावे किये जा रहे है. यहां तक की 196 अंक तक अधिकतम छात्रों के प्राप्त होने जानकारी प्राप्त हुई है. ऐसे छात्रों की संख्या ग्वालियर, जबलपुर एवं अन्य जिलों के परीक्षा केंद्रों में सम्मिलित परीक्षार्थियों की है. छात्रों ने ज्ञापन में मुख्यमंत्री से मांग करते हुए कहा है कि उक्त परीक्षा में परीक्षार्थियों के अंक एमपीपीईबी की वेबसाईट पर सार्वजनिक किये जाये. इसके अलावा केंद्रों के सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिग की जॉच कराये कराकर मामले की निष्पक्ष जॉच कराई जा जायें.


Web Title : THE MEMORANDUM SUBMITTED BY THE CANDIDATES SEEKING CANCELLATION OF THE EXAMINATION, THE STATE WOMEN CONGRESS GENERAL SECRETARY VIDYA REMIT LED THE COLLECTORATE, REACHED THE COLLECTORATE.