उठो नि:शक्तों सवेरा हुआ, ज्ञान ज्योति से मिटा अंधेरा

 झरिया: झरिया रिसोर्स सेन्टर के तत्वावधान में विश्व दिव्यांग दिवस की पूर्व संध्या पर दिव्यांग व झरिया हिन्दी गुजराती उच्च विद्यालय के बच्चों के साथ दिव्यांगता जागरुकता रैली का आयोजन किया गया. रैली स्कूल के निकल कर बाटा मोड़, बाजार, मेनरोड,  होते हुए पुनः विद्यालय में समाप्त हुई.

बच्चों के हाथों में तख्तियां थी जिसपर हौसला हो, तो दिव्यांगता अभिशाप नहीं, हम अपनी किस्मत खुद गढ़ेंगे, उच्च शिखर की ओर बढ़ेंगे,  उठो नि:शक्तों हुआ सवेरा, ज्ञान ज्योति से मिटा अंधेरा,  नेत्रहीन भी स्कूल चलेंगें, खेल खेल ब्रेल पढ़ेंगे, मूक बधिर हमें है आशा हम पढ़ेंगे सांकेतिक भाषा जैसे स्लोगन लिखे हुए थे.

कार्यक्रम में झरिया रिसोर्स सेंटर के फ़िज़ियोथेरेपिस्ट डॉ मनोज सिंह, रिसोर्स टीचर अखलाक अहमद, प्रधानाध्यापक लक्ष्मी नारायण (प्रभारी प्रधानाध्यापक) श्रीमती सोनाली प्रसाद, श्री राहुल चौबे, श्री दयानन्द सिंह यादव, श्री गौरव कुमार साव, श्री अशोक कुमार, श्री अनिल कुमार गुप्ता, श्रीमती भारती रानी, स्वाति कुमारी, श्रीमती सविता विश्वकर्मा, श्री निर्भय कुमार झा, श्री आनंद रोहिदास, श्री विजय कुमार रवानी आदि मुख्य रूप से उपस्थित थे.

Web Title : RISE TO THE DISABLED, WIPED OUT BY THE KNOWLEDGE LIGHT DARKNESS