बीसीसीएल के रिटायर्ड डायरेक्टर की बेटी को किडनेप कर रेप मामले में आरोपी बादल गौतम मुगलसराय से अरेस्ट

धनबाद. कोयला राजधानी धनबाद के हाईप्रोफाइल फ्रेंडशीप और धोखा मामले का मुख्य आरोपी कोल कारोबारी बादल गौतम को शुक्रवार को यूपी के मुगलसराय स्टेशन पर अरेस्ट कर लिया गया है. बीसीसीएल के रिटायर्ड डायरेक्टर की बेटी को किडनैप कर रेप मामले में धनबाद पुलिस बादल को दो माह से खोज रही थी.  

झारखंड पुलिस की सूचना पर आरपीएफ ने पीडीडीयू जंक्शन (मुगलसराय स्टेशन) से बादल गौतम को अरेस्ट किया है. धनबाद पुलिस की टीम ने बादल को लेकर मुगलसराय से गोविंदपुर थाना धनबाद लाया. बादल के खिलाफ तीन दिन पहले ही कोर्ट से अरेस्ट वारंट निर्गत हुआ है. दो माह से फरार चल रहे बादल अपने बचाव में पुलिस अफसरों को आवेदन देकर उल्टे पीड़ित पक्ष पर ही आरोप लगा रहा था. हाल के दिनों में वह सोशल मीडिया में एक्टिव रह रहा था. पुलिस टेक्नीकल सेल की मदद से बादल पर नजर रख रही थी. अंत: वह आज दबोचा गया. बादल की ओर से कोर्ट में अग्रिम जमानत की अरजी दी गयी है. मामले  में सुनवाई चल  रही है.  

बीसीसीएल के रिटायर्ड डायरेक्टर की बेटी ने तेतुलतल्ला निवासी बादल गौतम के खिलाफ बैंक मोड़ पुलिस स्टेशन में रेप व किडनैपिंग की एफआइआर दर्ज करायी थी. महिला का आरोप है कि कि बादल उसे और उसके प्रेमी संकेत कृष्णानी को किडनैप कर दिल्ली ले गया और कई बार उसके साथ रेप किया. बादल पर दस लाख रुपया व लाखों का जेवरात हड़पने व लाखों रुपये रंगदारी मांगने का भी आरोप है.  

महिला की कंपलेन पुलिस ने बादल पर रेप, किडनैपिंग व रैमशन के आरोप में एफआइआर दर्ज की है. पीड़िता ने कोर्ट में दर्ज अपने बयान में बादल के खिलाफ दर्ज मामले की पुष्टि करते हुए कई गंभीर आरोप लगाये हैं.  

 11 जुलाई को दोस्त के साथ कोलकाता से निकली थी पीड़िता

रिटायर्ड अफसर की बेटी व उसके दोस्त संकेत कृष्णानी ने बादल पर कोलकाता से बहला-फुसलाकर अगवा कर गन प्वाइंट पर कब्जा करने का आरोप लगाया है. आरोप है कि संकेत को गन प्वाइंट पर रखकर महिला को पुलिस अफसरों  से मिलवाकर झूठी कंपलेन करवायी गयी. संकेत के परजिनों से लाखों रुपये की मांग की गयी. बादल ने लाखों रुपये वसूल लिये हैं. महिला अपने पति को छोड़ संकेत के साथ घर बसाना चाहती थी.

पीड़िता ने पुलिस को कहा था कि संकेत की जान खतरे में थी, इसलिए बादल की ज्यादती बर्दाश्त कर रही थी. बादल उसे और संकेत को अलग-अलग जगहों पर ले गया. बादल  संकेत के भाई को वाट्सएप कॉल कर 25 लाख रुपये मांग रहा था. लॉकडाउन का हवाला देते हुए वह आठ लाख रुपये देने को राजी हो गया जिसे लेने बादल ने अपनी प्रेमिका को बरटांड़ भेजा था. महिला ने 22 सितंबर 2020 को बैंकमोड़ पुलिस स्टेशन में कांड संख्या 243/20 सेक्शन 376(2)/ 504/506/ 342/344/ 347/ 120 (बी) आइपीसी के तहत बादल गौतम, मोहित तिवारी, सौरव कुमार व कुमारी पूर्वी के खिलाफ एफआइआर दर्ज करायी थी.

आईपीएस अफसरों के साथ फोटो का गलत यूज करने का आरोप

महिला का आरोप है कि बादल गौतम काफी शातिर है. वह झारखंड समेत अन्य स्टेट के आईपीएस अफसरों के साथ फोटो खिंचवा रखा है.   प्रभाव जमाने के लिए फोटो का गलत इस्तेमाल करता है. बादल गौतम के खिलाफ ब्लैकमेल करने से संबंधित एक एफआइआर दिल्ली में अभिषेक राय ने दर्ज कराई है.

Web Title : THE DAUGHTER OF THE RETIRED DIRECTOR OF BCCL WAS ARRESTED FROM BADAL GAUTAM MUGHALSARAI, ACCUSED IN THE RAPE CASE.

Post Tags: