DC कार्यालय के सामने महिला ने की आत्मदाह करने की कोशिश, पुलिस कर्मियों ने पकड़ा, जलने से बची महिला

धनबाद. दुष्कर्म का प्रयास करने वाले आरोपियों के विरुद्ध जब कोई कार्रवाई नहीं हुई तो पीड़ित महिला आत्मदाह करने गुरुवार को दिन के 12 बजे उपायुक्त कार्यालय पहुँच गई. अपने ऊपर तेल छोड़क कर आत्मदाह करने की कोशिश की. संयोगवश यहाँ मौजूद सुरक्षा गार्ड एवं स्थानीय लोगों की तत्परता से पीड़िता द्वारा आत्मदाह का प्रयास असफल हुआ. सुचना पाकर घटना स्थल पहुँची महिला थाने की पुलिस पीड़िता को हिरासत में लेकर थाने ले गई. गौर तलब है कि पीड़िता 8 नवम्बर को उपायुक्त कार्यालय के सामने आत्मदाह करेगी. अपने इस निर्णय से मुख्यमंत्री को विगत 23 अक्टूबर को ही दिए आवेदन के माध्यम से अवगत करा चुकी थी. इस फैसले के साथ गुरुवार को पीड़िता उपायुक्त कार्यालय पहुँच भी गई. संयोगवश स्थानीय लोग एवं उपायुक्त कार्यालय के सुरक्षा गार्ड की सक्रियता से यह घटना टल गई. हालांकि इस घटना को टालने हेतु प्रशासन की ओर से कोई तैयारी नहीं देखी गई. चिरकुंडा की रहने वाली पीड़िता के द्वारा यह आरोप लगाया गया है चिरकुंडा के ही रहने वाले कासिम, सोनू, तिरका और सिकंदर ने उसके साथ दुष्कर्म का प्रयास किया है. इस मामले में 29 सितम्बर को चिरकुंडा थाने में आरोपियों के विरुद्ध पीड़िता लिखित शिकायत भी दर्ज कराई थी. आरोपियों के विरुद्ध किसी तरह की कार्रवाई नहीं होने पर 23 ऑक्टबर को पीड़िता मुख्यमंत्री को लिखित आवेदन देकर आरोपियों के विरुद्ध कड़ी क़ानूनी कार्रवाई करने की फरियाद लगाई थी. लिखित शिकायत में पीड़िता ने यह भी चेतावनी दी थी की कार्रवाई नहीं होने पर 8 नवम्बर को उपायुक्त कार्यालय के सामने आत्मदाह करेगी. पीड़िता ने बताया कि उपरोक्त आरोपी उनकी 7 वर्षीय बेटी के साथ छेड़खानी की है. पीड़िता के मुताबिक उसके पति पिछले चार वर्षों से गायब है.

Web Title : THE WOMAN IN FRONT OF THE DC OFFICE TRIED TO IMMOLATE, CAUGHT BY POLICE PERSONNEL, WOMAN LEFT WITH BURNS

Post Tags: