फीस जमा न होने पर स्कूल में 50 बच्चियों को बेसमेंट में किया गया बंद, मुख्यमंत्री ने मांगी रिपोर्ट

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जहां एक स्कूल में 50 बच्चियों को इसलिए बेसमेंट में बंद कर दिया गया, क्योंकि उनके पैरेंट्स ने फीस जमा नहीं की थी. बताया जा रहा है कि इस स्कूल में बच्चियों को 4. 5 से 5 घंटे तक स्कूल में बंद रखा गया. यह मामला दिल्ली के चांदनी चौक इलाके के राबिया गर्ल्स पब्लिक स्कूल का है.

रिपोर्ट्स के अनुसार, अभिभावकों का आरोप है कि छात्राओं को सुबह 7. 30 बजे से ही स्कूल के बेसमेंट में रखा गया था. छुट्टी के समय जब छात्र बाहर नहीं निकले तो अभिभावकों को इसकी जानकारी मिली. पैरेंट्स ने ये भी आरोप लगाया है कि बच्चों को पांच घंटों तक कुछ खाने-पीने को भी नहीं दिया गया. अभिवावकों के हंगामा करने के बाद उन्हें बताया गया कि बच्चों को बेसमेंट में बंद कर दिया गया है और उनकी अनुपस्थिति मार्क कर दी गई है, क्योंकि स्कूल मैनेजमेंट को उनकी फीस प्राप्त नहीं हुई थी.

वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस पूरे मामले पर रिपोर्ट मांगी है. साथ ही केजरीवाल ने सचिव और शिक्षा निदेशक को सभी जानकारी के साथ बुलाया है

वहीं कई पैरेंट्स का कहना है कि उन्होंने फीस जमा कर दी है. हालांकि स्कूल प्रबंधन इससे इंकार कर रहा है और उनका कहना है कि स्कूल के डेटाबेस में यह जानकारी उपलब्ध नहीं है. पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली है. दिल्ली पुलिस ने स्कूल फीस का भुगतान नहीं करने पर केजी के छात्रों को बेसमेंट में बंद करने को लेकर एक स्कूल के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

वहीं मामले को बढ़ता देख स्कूल प्रिंसिपल ने आरोपों का खंडन किया है. प्रिंसिपल का कहना है कि बेसमेंट सजा देने का स्थान नहीं है और यह एक एक्टिविटी रूम है जहां बच्चे खेलते हैं और उन्हें म्यूजिक सिखाया जाता है. यह एक क्लासरूम की तरह ही है.


Web Title : 50 BACHCHIYO WAS CLOSED IN BASEMENTS IN THE SCHOOL ON THE FEE OF DEPOSIT, CHIEF MINISTERS SOLICITED REPORT

Post Tags:

school fees