पति की मृत्यु पर महिला को अंत्येष्टि सहायता नहीं देने वाले बिटोड़ी सचिव पर कार्यवाही

बालाघाट. पति की मृत्यु के बाद उसकी पत्नी को अंत्येष्टि सहायता देने में गंभीर लापरवाही बरतने के कारण खैरलांजी जनपद के ग्राम पंचायत बिटोड़ी सचिव नंदकिशोर मात्रे की एक वेतन वृद्धि रोकने के निर्देश कलेक्टर डॉ. गिरीश कुमार मिश्रा ने दिये है. ग्राम बिटोड़ी की महिला अंजू डोंगरे ने कलेक्ट्रेट कार्यालय में गत मंगलवार को आयोजित जनसुनवाई में आवेदन दिया था कि उसके प्रति की मृत्यु होने के बाद उसे पंचायत द्वारा अंत्येष्टि सहायता राशि प्रदान नहीं की गई है, जबकि उसके पति का कर्मकार मंडल की योजना में श्रमिक कार्ड बना है.

कलेक्टर डॉ. मिश्रा ने शिकायत को गंभीरता से लेते हुए जनपद पंचायत खैरलांजी के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को इसकी जांच करने के निर्देश दिए थे. मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत खैरलांजी श्रीमती श्रुति ताराम ने इस प्रकरण की जांच में पाया कि ग्राम पंचायत के सचिव नंदकिशोर मात्रे द्वारा अंजू डोंगरे को सहायता राशि देने में गंभीर लापरवाही बरती गई. जिस पर सचिव नंदकिशोर मात्रे की एक वेतन वृद्धि रोकने का प्रस्ताव जिला पंचायत को भेज दिया गया है. इसके साथ ही अंजू डोंगरे को राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना की राशि स्वीकृत कर दी गई है और उसे 6000 रुपये की अंत्येष्टि सहायता राशि उसके बैंक खाते में जमा करा दी गई है. इस मामले के बाद जिले के सभी ग्राम पंचायतों के सचिवों को निर्देशित किया गया है कि वे इस तरह की गंभीर लापरवाही कतई ना बरतें अन्यथा उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी.


Web Title : ACTION TAKEN AGAINST BITODI SECRETARY FOR NOT PROVIDING FUNERAL ASSISTANCE TO WOMAN ON HUSBANDS DEATH