बालाघाट के 7 वर्षीय बालक अर्जुन का नाम इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज, सबसे तेज केमेस्ट्री के पेरीओडिक टेबल बोलने का बनाया रिकॉर्ड, गिनीज बुक में नाम दर्ज करने की तैयारी

बालाघाट. चतुरमोहता परिवार के नन्हें होनहार बालक ने वह काम कर दिखाया है, जो अब तक इस उम्र के कोई बालक ने पूरे देश में नहीं कर पाया है. जिसके चलते नन्हे होनहार बालक अर्जुन डॉ. अक्षय चतुरमोहता का नाम इंहिया बुक ऑफ इंडिया 2020 की बुक में अपना नाम दर्ज कराया है. कम उम्र में भी अर्जुन को देश के प्रथम राष्ट्रपति से लेकर वर्तमान राष्ट्रपति और देश के प्रथम प्रधानमंत्री से लेकर वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तक का नाम सिलसिलेवार याद है, अर्जुन का दिमाग इतना तेज है कि आप विश्वास नहीं कर सकते कि स्कूल में सेकंड क्लास के किसी बच्चे में इतना दिमाग होगा. बालक अर्जुन डॉ. अक्षय चतुरमोहता का अब पूरा परिवार गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में उसका नाम दर्ज कराना चाहता है, बालक अर्जुन भी उसकी तैयारी कर रहा है. धार्मिक प्रार्थना के साथ ही अन्य कई बातों का इतनी कम उम्र के अर्जुन में होना, कोई कुदरती करिश्मे से कम नहीं है.  

इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में केमेस्ट्री पेरीओडिक टेबल में सबसे तेज बोलने वाले कम उम्र के बालक में अर्जुन डॉ. अक्षय चतुरमोहता ने अपना दर्ज किया है. जब मीडिया के सामने बालक अर्जुन ने केमेस्ट्री पेरीओडिक टेबल, माननीय राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री का नाम सिलसिलेवार लिया तो मीडियाकर्मियों को भी उसकी दिमागी करिश्मे का पता चला. पिता डॉ. अक्षय चतुरमोहता की मानें तो बालक अर्जुन का केमेस्ट्री पेरीओडिक टेबल बोलते हुए एक विडियो उन्होंने अगस्त में इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड के लिए भिजवाया था. जिसमें अर्जुन ने 46 सेकंड में केमेस्ट्री पेरीओडिक टेबल (आवर सारणी) बोला, जिसके बाद सबसे तेज केमेस्ट्री पेरीओडिक टेबल बोलने पर अर्जुन का नाम इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड 2020 के लिए नामांकित किया गया है. बालक अर्जुन की यह उपलब्धि न केवल पूरे जिले अपितु देश के लिए गौरान्वित करने वाली है और परिवार भी स्वयं को गौरान्वित कर रहा है.

बालक अर्जुन की इस सफलता पर दादा डॉ. सी. एस. चतुरमोहता, दादी श्रीमती शीला चतुरमोहता, बड़े पापा अनुराग चतुरमोहता, बड़ी मम्मी श्रीमती चैताली चतुरमोहता, पिता डॉ. अक्षय चतुरमोहता, मां श्रीमती डॉ. दर्शना चतुरमोहता और शुभचिंतक प्रसन्नचित है और पूरा परिवार का विश्वास है कि बालक अर्जुन गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड में अपना नाम दर्ज कराकर देश को गौरान्वित करेगा.


Web Title : BALAGHATS 7 YEAR OLD BOY ARJUNA NAMED IN INDIA BOOK OF RECORDS, RECORD OF SPEAKING PERIODIDIC TABLE OF FASTEST CHEMISTRY, PREPARING TO BE NAMED IN GUINNESS BOOK