गैंगरेप के चार आरोपी गिरफ्तार, एक फरार

बालाघाट. 24 फरवरी को बोदा की नहर के पास कच्चे मकान में नाबालिग के साथ हुए गैंगरेप के चार आरोपियों को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. जबकि एक आरोपी फरार है, जिसकी पुलिस तलाश कर रही है. पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गये आरोपियों में एक आरोपी नाबालिग है.

गौरतलब हो कि गैंगरेप का मुख्य आरोपी रानु उर्फ दिगपाल लिल्हारे की आंवलाझरी में पोहा की दुकान है, जहां पोहा खाने जाते समय पीड़िता नाबालिग से उसकी पहचान हुई थी. जिसके कुछ बात करने बुलाने पर ही पीड़िता उससे मिलने रानु के दोस्तो के साथ बोदा नहर किनारे एक कच्चे मकान में गई थी. जहां पीड़िता की मानें तो युवकों ने बारी-बारी से उसके साथ दुष्कर्म किया और मारपीट की तथा घटना की किसी को जानकारी देने पर जान से मारने की धमकी दी थी.

घटना के दूसरे दिन 24 फरवरी को पीड़िता ने कोतवाली थाने में इसकी शिकायत की थी. जिस पर पुलिस ने 5 नामजद आरोपियों 23 वर्षीय रानु उर्फ दिगपाल पिता कृपाल लिल्हारे, 20 वर्षीय सोनु उर्फ तुलसीराम पिता अंगदलाल शिवहरे, 20 वर्षीय राहुल पिता साहेबलाल नगपुरे, गौरव लोधी और एक नाबालिग के खिलाफ धारा 363, 376डी, 506, 323, 34 भादंवि. और पाक्सो एक्ट की धारा 5जी/6 के तहत अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया था.

घटना की गंभीरता को देखते हुए वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में कोतवाली थाना प्रभारी विजयसिंह परस्ते की टीम में शामिल उपनिरीक्षक विरेशसिंह कुशवाहा, राजकुमार दांगी, आरक्षक शैलेष गौतम और गजेन्द्र माटे, आरोपियो की तलाश में जुट गये थे. 25 फरवरी की रात मिली सूचना पर कोतवाली पुलिस टीम ने आरोपी रानु उर्फ दिगपाल लिल्हारे, सोनु उर्फ तुलसीराम शिवहरे, राहुल नगपुरे और नाबालिग आरोपी को गिरफ्तार किया. जिसमें एक अन्य आरोपी गौरव लोधी फरार है, जिसकी पुलिस तलाश कर रही है. कोतवाली पुलिस ने सभी गिरफ्तार आरोपियों को मेडिकल जांच के बाद माननीय न्यायालय में पेश किया.


इनका कहना है

पीड़िता द्वारा अपने साथ हुई घटना की शिकायत कोतवाली में की गई थी. मुख्य आरोपी रानु से पीड़िता की जान, पहचान थी और आरोपी ने इसी का फायदा उठाकर पीड़िता को बहाने से बुलाया और अपने साथियों के साथ मिलकर पीड़िता नाबालिग के साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया था. जिसमें आरोपियों के खिलाफ अपराधिक दर्ज कर सरगर्मी से उनकी तलाश की जा रही थी. जिसमें एक नाबालिग सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. एक आरोपी फरार है, जिसकी पुलिस तलाश कर रही है.  

विजयसिंह परस्ते, थाना प्रभारी, कोतवाली थाना

13 वर्षीय नाबालिग से दुष्कर्म का आरोपी गिरफ्तार

कोतवाली पुलिस ने लगभग 13 वर्षीय नाबालिग के साथ दुष्कर्म मामले में आरोपी झुग्गी झोपड़ी निवासी 19 वर्षीय विक्की उर्फ विकास पिता श्याम बंशकार को गिरफ्तार कर लिया है. 7-8 फरवरी की दरमियानी नाबालिग के साथ हुई दुष्कर्म की घटना में पुलिस ने 24 फरवरी को की गई पीड़िता की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ धारा 363,376(3),506 ताहि और 3/4 पाक्सो एक्ट के तहत मामला कायम कर जांच मंे लिया था. पुलिस को पीड़िता नाबालिग ने बताया कि आरोपी ने उसे बहला फुसलाकर गोंदिया ले गया. जहां घूमने के बाद जब बालाघाट लौटे तो आरोपी ने सरेखा रेलवे क्रार्सिंग के पास स्थित दोस्त के घर ले गया. जहां सूने घर में उसने रात भर उसके साथ गलत काम किया और घटना की जानकारी किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी थी. पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी थी, जिसमें फरार आरोपी को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर उसकी मेडिकल जांच के बाद उसे माननीय न्यायालय में पेश किया.  


Web Title : FOUR GANG RAPE ACCUSED ARRESTED, ONE ABSCONDING