रेलसुविधाओं के नाम पर फिर फिर ठगे गये जिलेवासी, तीन ट्रेनो के प्रारंभ होने पर भी लंबी दूरी के ट्रेनो का कनेक्शन नहीं, 15 नवंबर से प्रारंभ होगी तीन ट्रेन

बालाघाट. जिले के लोगों को एक बार फिर रेलसुविधाओं के नाम पर माननीय ने झुनझुना पकड़ा दिया है, लेकिन अपनी पीठ तो ऐसा थपथपा रहे है, जैसे कोई भारी काम कर दिया हो. कोविड कॉल से पहले की रेलवे समय सारिणी से उलट पुरानी ट्रेनो को कोविड कॉल के बाद चलाने पर वाहवाही लूट रहे सांसद की कार्यप्रणाली को लेकर जिले के लोग नाराज है, जबकि जिले के लोगों को दशकों से प्रतिक्षित गोंदिया से जबलपुर और कटंगी-तिरोड़ी मार्ग के निर्मित होने के बाद इस मार्ग पर रेल चलाने का इंतजार है, लेकिन उसे प्रारंभ नहीं करवाकर पुरानी ट्रेनो के प्रारंभ होने पर सांसद स्वयं की पीठ थपथपा रहे है.  

जानकारों की मानें तो कोविड कॉल के पहले जैसी गोंदिया से कटंगी और गोंदिया से समनापुर के बीच ट्रेन चलाई जा रही थी, उस समय पर ट्रेन चलाई जाती है तो इससे जिले के लोगों को गोंदिया से मिलने वाले नागपुर और रायपुर की बड़ी दूरी की ट्रेन कनेक्शन मिल पाता, लेकिन पुरानी और नई ट्रेन प्रारंभ होने से जिले के रेलयात्रियों को लंबी दूरी के ट्रेन कनेक्शन का लाभ नहीं मिल पा रहा है, जिससे लोगों के लिए यह ट्रेने महज गोंदिया से कटंगी और कटंगी से गोंदिया और गोंदिया से समनापुर और समनापुर से गोंदिया तक की यात्रा के लिए पर्याप्त है. जबकि कोविड कॉल के पहले प्रातः एक ट्रेन कटंगी से रवाना होकर ट्रेन चलती थी, जो प्रातः 8 बजे जिले के लोगों को गोंदिया छोड़ देती थी. जिससे गोंदिया से प्रातः 8. 20 को नागपुर के लिए रवाना होनी महाराष्ट्र एक्सप्रेस और रायपुर की ओर जाने वाली इंटरसिटी एक्सप्रेस का कनेक्शन मिल जाता था. जिससे जिले के लोगों के लिए दोनो ओर की यात्रा सुविधाजनक होती थी, लेकिन प्रारंभ की गई सभी ट्रेनों से गोंदिया से इन ट्रेनों का कोई कनेक्शन नहीं मिल रहा है. यह ट्रेन केवल गोंदिया से बालाघाट जिले के बीच आवागमन की दृष्टि से नजर आ रही है, जबकि जिले का अधिकांश वर्ग पढ़ाई, व्यवसाय और ईलाज के लिए नागपुर, रायपुर की ओर जाता है. जिसके लिए प्रारंभ की गई और प्रारंभ की जाने वाली ट्रेनों का कोई औचित्य नहीं है.  

बहरहाल सांसद डॉ. ढालसिंह बिसेन का कहना है कि जिले के रेलयात्रियों को गोंदिया से लंबी दूरी का कनेक्शन मिल सकें और कोविड कॉल के पूर्व चलने वाली समय सारिणी के अनुसार ट्रेनों का संचालन हो, इसके लिए वह प्रयासरत है वहीं गोंदिया से जबलपुर और कटंगी से तिरोड़ी के लिए रेलवे बोर्ड और रेल मंत्रालय से चर्चारत है, लेकिन सांसद जी को शायद यह कहावत याद नहीं है, अब पछतात होत क्या, जब चिड़िया चुग गई खेत. बालाघाट जिले के जनप्रतिनिधियों की जिले के प्रति गंभीरता नहीं होने के कारण साधन संपन्न जिला, आज भी सुविधाओं और विकास से कोसो दूर है. जबकि यहां के प्राकृतिक संसाधनों का उचित दोहन हो रहा है, प्राकृतिक संसाधनों के दोहन के साथ ही जिले के रेलयात्रियों की सुविधाओं के प्रति जनप्रतिनिधियों की गंभीरता हमेशा ही गैर जिम्मेदार रही है. जिसके कारण विपक्ष को सत्ता में बैठे लोगों पर सवाल खड़े करने का मौका मिल जाता है.

15 नवंबर से प्रारंभ होगी गोंदिया-कटंगी-गोंदिया एवं गोंदिया-समनापुर-गोंदिया ट्रेन

आगामी 15 नवंबर 2021 से गोंदिया-कटंगी-गोंदिया रूट पर दो ट्रेन एवं गोंदिया-समनापुर-गोंदिया रूट के लिए एक ट्रेन प्रारंभ की जा रही है. इन ट्रेनों के प्रारंभ होने से यात्रियों को गोंदिया से कटंगी के बीच एवं गोंदिया से समनापुर के बीच सफर करने में सहूलियत हो जायेगी.  

बालाघाट रेल्वे स्टेशन के मुख्य रूटेशन प्रबंधक श्री एस एम कुशवाहा ने बताया कि 15 नवंबर से डेमू पेंसेंजर ट्रेन क्रमांक 7801 गोंदिया रेल्वे स्टेशन से प्रातः 04. 40 बजे प्रस्थान करेगी और प्रातः 5. 35 बजे बालाघाट पहुंचेगी. यह ट्रेन बालाघाट से प्रातः 5. 40 बजे प्रस्थान करेगी और प्रातः 7. 10 बजे कटंगी पहुंचेगी. डेमू पेंसेंजर ट्रेन क्रमांक 7802 कटंगी रेल्वे स्टेशन से प्रातः 08 बजे प्रस्थान करेगी और प्रातः 9. 11 बजे बालाघाट पहुंचेगी. यह ट्रेन बालाघाट से प्रातः 09. 16 बजे प्रस्थान करेगी और प्रातः 10. 15 बजे गोंदिया पहुंचेगी.  

इसी प्रकार डेमू पेंसेंजर ट्रेन क्रमांक 7821 गोंदिया रेल्वे स्टेशन से दोपहर 12. 15 बजे प्रस्थान करेगी और दोपहर 01. 40 बजे बालाघाट पहुंचेगी. यह ट्रेन बालाघाट से दोपहर 01. 45 बजे प्रस्थान करेगी और दोपहर 03 बजे कटंगी पहुंचेगी. डेमू पेंसेंजर ट्रेन क्रमांक 7822 कटंगी रेल्वे स्टेशन से दोपहर 03. 40 बजे प्रस्थान करेगी और अपरान्ह 05. 02 बजे बालाघाट पहुंचेगी. यह ट्रेन बालाघाट से शाम 05. 07 बजे प्रस्थान करेगी और शाम 06. 10 बजे गोंदिया पहुंचेगी.  

डेमू पेंसेंजर ट्रेन क्रमांक 7829 गोंदिया रेल्वे स्टेशन से प्रातः 06. 45 बजे प्रस्थान करेगी और प्रातः 07. 56 बजे बालाघाट पहुंचेगी. यह ट्रेन बालाघाट से प्रातः 08. 01 बजे प्रस्थान करेगी और प्रातः 08. 20 बजे समनापुर पहुंचेगी. डेमू पेंसेंजर ट्रेन क्रमांक 7830 समनापुर रेल्वे स्टेशन से प्रातः 09. 10 बजे प्रस्थान करेगी और प्रातः 09. 28 बजे बालाघाट पहुंचेगी. यह ट्रेन बालाघाट से प्रातः 10. 23 बजे प्रस्थान करेगी और प्रातः 11. 30 बजे गोंदिया पहुंचेगी.


Web Title : IN THE NAME OF RAIL FACILITIES, THREE TRAINS WILL START FROM 15TH NOVEMBER, EVEN AFTER THE COMMENCEMENT OF THREE TRAINS.