पाठशाला के नन्हे-मुन्ने बच्चों के लिए बैंक ऑफ इंडिया ने खोला खुशियों का खाता

धनबाद. पाठशाला में बच्चों को बैंक ऑफ इंडिया के सौजन्य से अभिवावक द्वारा संचालित बचत खाता खोला गया जिसका नाम पाठशाला ने खुशियों का खाता दिया I कुल 114 बच्चों का जिनकी उम्र 4 वर्ष से लेकर 12 वर्ष तक थी के लिए बचत खाता खोला गया और उन्हें  अभिभावक के मौजूदगी पासबुक दिया गया l कार्यक्रम का आयोजन पाठशाला भागा बस्ती शाखा में आयोजित की गयी थी.

इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से बैंक ऑफ इंडिया के जोनल मैनेजर संजय कुमार, जोनल ऑफिस के मार्केटिंग अधिकारी मनोज कविराज और कतरासबाजार बैंक ऑफ इंडिया के ब्रांच मैनेजर प्रशांत कुमार झा मौजूद थे l 

विशिष्ट अतिथि के रूप में बैंक ऑफ इंडिया बरवाडा ब्रांच के सीनियर ब्रांच मैनेजर रंजीत दत्ता मौजूद रहे l

बच्चों के बीच बचत खाता खुलने की खुशी तो थी ही साथ में उनके खाते में 100-100 रूपए भी कोल इंडिया के उपप्रबंधक संजय चानयाल, आर. एम फ्यूल्स के प्रॉपराइटर राजकुमार पासवान और पूर्व बिहार प्रदेश रणजी खिलाड़ी और पटना में कोल इंडिया में पदास्थापित एस्. एन. लाल के सहयोग से छात्रवृत्ति की पहली किस्त भी मिली I 

बच्चों को बैंक खाते के साथ-साथ प्रशांत कुमार झा की निजी मद से एक-एक ड्रॉइंग कॉपी और चॉकलेट बांटे गए I

बैंक ऑफ इंडिया के जोनल मैनेजर संजय कुमार ने बताया कि 114 बच्चों को ही इसलिए खाता खोलने के लिए चुना गया क्योंकि बैंक ऑफ इंडिया अभी अपनी 114 वां स्थापना दिवस मना रही हैं I बाकि सभी बच्चों का खाता अगले कुछ दिनों में खोला जायेगा I

जोनल मैनेजर संजय कुमार ने बताया कि बैंक के खाता खोलने से ना केवल बच्चों को बल्कि अभिभावकों को भी इसका बहुत फायदा होगा I वह इस खाते से जुड़कर भारत सरकार की अन्य योजनाओं जैसे कि अटल पेंशन योजना या फिर बिमा योजना का लाभ ले सकते हैं I 

उन्होंने पाठशाला के संस्थापक देव कुमार वर्मा की तारीफ में कहा की आज के इस युग में आप जैसे लोग शिक्षा की अलख जगा रहे हैं अभी इतनी सुदूर जगह पर वंचित तपके के बच्चों के लिए निशुल्क पाठशाला खोलना और इतनी अच्छे से संचालन करना बेहतरीन कार्य हैं I 

बैंक ऑफ इंडिया के ब्रांच मैनेजर प्रशांत कुमार झा ने कहा कि अगली बार वह एक शिविर भागाबस्ती शाखा में यहां के लोगों के लिए लगाएंगे जिसमें सभी लोगों को बैंकिंग सिस्टम से जोड़ा जाएगा I 

अभिभवाको में टुकटुक के माँ श्रीमती सपना यादव भावुक होकर बोली की आज तक हम शिर्फ़ निशुल्क शिक्षा ले रहे थे पर इस पहल से शायद को कोई ऐसा स्कूल होगा तो बच्चों का हौसला बढाने के लिए छात्रवृत्ति भी अपने मद से दे रहा हैं I 

आज के इस कार्यक्रम में बच्चों के साथ अभिभावकों ने भी पूरा जोश दिखा वह कई समस्याओं के साथ उन्होंने अपनी बातें रखी इस पूरे सफल आयोजन में पाठशाला के शिक्षकों का सराहनीय योगदान रहा है I 

Web Title : BANK OF INDIA OPENS HAPPY ACCOUNT FOR SCHOOL CHILDREN

Post Tags: