नहीं मिला पीएम आवास योजना का लाभ, जिलाधिकारियों से लगाई गुहार

धनबाद : प्रधानमंत्री आवास योजना के द्वारा दी गई फण्ड से अपनी जमीन पर आवास बनाने के लिए मनोज साव लगा रहा अधिकारियों का चक्कर. आपको बता दे कि जिला प्रसासन के द्वारा दिनांक 8 जून 2019,से एक बार फिर अपनी बात कार्यक्रम की शुरुआत की गई है, इस कार्यक्रम में दूरभाष के माध्यम से अधिकारी जनता से सीधी बात कर उनकी समस्या का निदान जल्द से जल्द करने का आश्वासन देते है.

अपनी बात कार्यक्रम के तहत प्रत्येक शनिवार को प्रातः 11:00 बजे से मध्याह्न 12:00 बजे तक टेलीकॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से आम जनता के द्वारा पूछे गए सवालों का समाधान जिला के निर्धारित पदाधिकारी  के द्वारा किया जाना है. उक्त कार्यक्रम में जिला के आम जनता अपनी किसी भी समस्या के समाधान के लिए 9470554487 पर कॉल अथवा मेसेज कर अपनी समस्या या सुझाव को लेकर पदाधिकारी से साझा कर समस्या से निदान पा सकते है. मामला है धनबाद झरिया के डिगवाडीह के रहने वाले मनोज शाव का, फिलहाल मनोज डिगवाडीह में भाड़े के मकान में रहता है, मनोज पेसे से मैकेनिक है.

मनोज शाव किसी तरह पैसे जुगाड़ कर अपनी पत्नी अनिता देवी के नाम पर सुदामडीह थाना अंतर्गत नुनुडीह भूली टाइप में 10 वर्ष पूर्व में जमीन खरीदा था. मनोज किसी तरह जमीन तो खरीद लिया, लेकिन उस जमीन पर घर बनाने के लिए मनोज के पास पैसे नही थे, मनोज अपनी जमीन पर घर बनाने के लिए पैसा इकठ्ठा करने लगा. इस बीच मनोज की किस्मत खुली और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री आवास योजना का शुभारंभ किया.

मनोज प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदन दिया और मनोज का आवेदन कुछ महीने में पास भी हो गया. और पहली किस्त की राशी 45, 000 रुपये मनोज के खाते में आ गया. मनोज योजना की राशी से कुछ पैसे निकाल कर अपने जमीन पर काम करवाने गया. लेकिन सुदामडीह थाना अंतर्गत के कुछ दबंग लोग मनोज को उसके जमीन में काम करने नही दिया.

मनोज अपनी जमीन पर काम करवाने के लिए स्थानिय पार्षद से मिला, स्थानिय थाना सुदामडीह गया. झरिया सीईओ से मिला. लेकिन किसी ने मनोज का काम नही किया. परेशान मनोज अपनी बात कर्यक्रम का जो प्रत्येक शनिवार को होता है उसका इंतजार करने लगा. मनोज की किस्मत अच्छी थी क्योंकि 6 जुलाई शनिवार को अपनी बात कार्यक्रम में भु राजस्व सम्बंधित मामले में जनता से सीधी बात करने अपर समाहर्ता नरायन राम थे.

मनोज शनिवार को दोपहर 11 से 12 के बीच अपनी बात कार्यक्रम में अपर समाहर्ता को फोन लगाकर अपना दुखड़ा सुनाया, मनोज अपर समाहर्ता से बात कर काफी खुश था, मनोज सोच रहा रहा अब जल्द ही अपनी जमीन पर प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अपना घर बना कर अपने परिवार के साथ अपने घर मे रहेगा.

लेकिन अपर समाहर्ता द्वारा मनोज को अपनी बात कार्यक्रम में कोई सांत्वना नही मिला, जिससे मनोज फिर निराश हो गया. मनोज ने बताया कि अगर जल्द जमीन की समस्या का समाधान नही हुआ तो प्रधानमंत्री आवास योजना का फंड वापस हो जाएगा और अगर फंड वापस हो गया तो कभी भी अपने परिवार के लिए अपना छत नही बना सकेगा. मनोज ने आलाधिकारियों से अपनी समस्या का निदान करने हेतु गुहार लगाया है.

Web Title : BENEFITS OF NOT FOUND PM HOUSING SCHEME, URGED BY DISTRICT MAGISTRATES

Post Tags: