शीला दीक्षित और एके राय का निधन गहरी क्षति

 धनबाद: जय प्रकाश नगर स्थित राष्ट्रीय कोलियरी मजदूर संघ के कार्यकाल में एक आकस्मिक बैठक मे दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और काग्रेस के राष्ट्रीय महिला नेत्री श्रीमती शीला दीक्षित तथा धनबाद के पूर्व सांसद श्री  ए के राय के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए संघ के महामंत्री श्री ए के झा ने कहा कि श्रीमती शीला दीक्षित 15 वर्ष तक लगातार दिल्ली की मुख्यमंत्री रही. दिल्ली के चौमुखी विकास में उनका बडा योगदान रहा है. श्रीमती शीला दीक्षित एक ईमानदार कर्मठ, मृदुभाषी, काग्रेस के लिए पूर्णतः समर्पित नेत्री थी. उनके निधन से काग्रेस पार्टी के साथ साथ देश को अपूर्णीय क्षति हुई है, जिसकी पूर्ति निकट भविष्य में संभव नही है.

  श्री झा ने कहा कि कामरेड ए के राय संघर्षशील, ईमानदार, कर्मठ और बहादुर मजदूर नेता थे. सार्वजनिक जीवन में उनकी ईमानदारी दूसरो के लिए प्रेरणा का स्रोत था. जेपी आंदोलन मे उनहोंने बिहार विधानसभा की सदस्यता से त्यागपत्र दिया था. परिणामस्वरूप जेल में रहते हुए धनबाद की जनता ने उन्हें अपना सासंद चुना था.

    स्व राय के निधन से मुझे व्यक्तिगत क्षति हुई है.

    श्री झा ने कामरेड सबुर गोराई एव उन दो महिला कामगारों को हृदय से धन्यवाद दिया जिन्होंने स्व राय के अंतिम   सांस तक उनकी सेवा की.

   बैठक में संघ के श्री ओमप्रकाश लाल पूर्व मंत्री, श्री मन्नान मलिक पूर्व मंत्री, श्री ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह, श्री अजबलाल शर्मा, श्री सुरेश झा, श्री के बी सिंह, श्री रामप्रीत यादव, श्री संतोष महतो, श्री ओपी पाडेय, लगनदेव यादव, बीरेन्द्र अम्बसठ, क्यूम खा, बिमलेश चौबे, कृष्णा सिह, पी एन तिवारी, मिथिलेश सिह, पुष्पा धोबी, पप्पू शर्मा, काली पदों रवानी, सुनील कुमार राय,शैलेन्द्र सिंह, निमाई सिंह, भोला सिंह, पवन झा, शिव सागर सिह, शमीम खान, एस के शाही, पंकज मिश्रा आदि ने स्व राय को भावभीनी श्रद्धांजलि दी. सबो ने एक स्वर में कहा है कि स्व राय के निधन से जो मजदूर राजनीति को क्षति हुई है, उसकी निकट भविष्य में भरपाई संभव नहीं है.

Web Title : SHEILA DIKSHIT AND AK ROY PASSED AWAY IN DEEP DAMAGE