पाठशाला के सुपर 40 बच्चों ने देखी आनंद कुमार पर बनी सुपर थर्टी फिल्म

धनबाद : अब राजा का बेटा ही राजा बनेगा ऐसा नहीं, बल्कि राजा वह बनेगा जो उसका हकदार होगा इस डायलॉग के साथ ही बच्चों की जोरदार तालियां आज गूंजी कतरासगढ़ के स्वस्तिक प्लाजा सिनेमा हॉल में, मौका था पाठशाला के सर्वश्रेष्ठ 40 बच्चों को अपने जीवन की पहली फिल्म सिनेमा हॉल में देखने की आज पाठशाला प्रबंधन की ओर से पाठशाला भागा बस्ती और कतरास बाजार के सर्वश्रेष्ठ 40 बच्चों को मशहूर गणितज्ञ आनंद कुमार एक जीवन पर बनी फिल्म सुपर थर्टी देखने का मौका मिला l

संघर्ष जीवन का अभिन्न हिस्सा है और हम इसे जितना जल्दी समझ लेंगे, आगे बढ़ने इतना ही मजा आता है l इस फिल्म मैं ऋतिक रोशन ने आनंद कुमार के किरदार को बखूबी निभाया है l

आनंद कुमार की कहानी कहीं ना कहीं पाठशाला के बच्चों से जुड़ी हुई हैं l यहां पर भी बच्चों के पास वह सारे इंतजाम नहीं है जिनसे उनकी पढ़ाई निर्बाध चले l पाठशाला के बच्चों ने फिल्म खत्म होने के बाद कई डायलॉग को भी बार-बार दोहराया l

जैसे कि, जब तक विपदा नहीं आती तब तक अविष्कार नहीं होता या फिर बहुत हुई पढ़ाई अब है लड़ाई की बारी

बच्चों के साथ शिक्षकों ने भी कहां की Super-30 आज देख कर यह पता चला कि अगर हौसले बुलंद हो तो मंजिल किसी की हैसियत देखकर नहीं बल्कि उसकी काबिलियत देखकर मिलती है l

इस कार्यक्रम में पूरी खर्च राशि पाठशाला प्रबंधन ने दी और बच्चों के  बीच में चॉकलेट, चिप्स और बिस्किट बीस सूत्री उपाध्यक्ष और पाठशाला से जुड़े गुरमीत सिंह के सौजन्य से मिली l 

इस कार्य में प्रधानाचार्य जय प्रकाश सिंह, नीलकंठ महतो, अभिषेक कुमार, बबीता पांडे, प्रिया कुमारी, किस्मत, ऋषि और संगीता देवी का सराहनीय योगदान रहा.

Web Title : SUPER 40 CHILDREN OF PATHSHALA WATCHED ANAND KUMARS SUPER 30

Post Tags:

Pathshala