लोकतंत्र का चुनावी मैच बना कमाई का जरिया, बीजेपी-कांग्रेस की जीत हार पर सट्टा

केंदुआ : लोकतंत्र के चुनावी मैच का 23 मई को परिणाम आना है. जुआडिय़ों के लिए यह भी कमाई का धंधा है. इसलिए भाजपा के पीएन सिंह या फिर कांग्रेस के कीर्ति आजाद में से कौन होगा यहां का सांसद इसे लेकर केंदुआ और आसपास के क्षेत्रों में सट्टेबाजी का बाजार गर्म है. इन दोनों प्रत्याशियों के नाम पर 10 से 15 लाख रूपये तक का सट्टा लगाया गया है.

बताया जाता है कि सबसे अधिक दाव पीएन सिंह की जीत पर लगाया जा रहा है. जबकि कीर्ति आजाद के नाम पर सट्टा लगाने वाले भी पीछे नहीं हैं. सट्टेबाजी का यह खेल केंदुआ बाजार में रात होने के बाद चल रहा है. वैसे भी यह धंधा कहीं भी हो सकता है. अपने-अपने प्रत्याशियों के लिए सट्टा लगाने वालों के तर्क भी हैं. पीएन सिंह के नाम पर सट्टा लगाने वालों को सिंह का शांत स्वभाव और केंद्र में मोदी की सरकार बनाने की मजबूरी का दावा है. वहीं दूसरा पक्ष का मानना है कि पीएन सिंह की वोटरों से दूरी कीर्ति आजाद के जीत का मंत्र है. अब चाहे जो कुछ भी हो. पीएन सिंह या फिर कीर्ति जीतें, दाव तो दोनों के नाम पर लगा हुआ है.

वहीं इस पूरे मामले पर केंदुआडीह थाना प्रभारी वीर कुमार के अनुसार उन्हें सट्टेबाजी की जानकारी नहीं है. यदि ऐसा मामला है तो इसकी जांच की जाएगी और सट्टा लगाने वालों पर कार्रवाई होगी.


Web Title : THE ELECTION OF DEMOCRACY IS A SOURCE OF EARNING, SPECULATIVE ON BJP CONGRESS VICTORY DEFEAT