मोदी सरकार का बड़ा फैसला- गाँधी परिवार को नहीं मिलेगी एसपीजी सुरक्षा 

नई दिल्ली. मोदी सरकार ने गांधी परिवार को लेकर अब तक का सबसे बड़ा फैसला ले लिया है. दरअसल गृह मंत्रालय की बैठक में ये फैसला लिया गया है कि अब गांधी परिवार के किसी भी सदस्य को एसपीजी की सुरक्षा सुविधा नहीं दी जाएगी. बल्कि इसके एवज में उन्हें सीआरपीएफ की सबेस बड़ी सुरक्षा Z प्लस दी जाएगी.


आपको बता दें कि आजादी के बाद से ही गांधी परिवार को एसपीजी की सुरक्षा सुविधा दी गई थी. लेकिन अब ये सुविधा ले ली गई है. इसके साथ ही गृह मंत्रालय की उच्चस्तरीय बैठक में पूर्व पीएम मनमोहन सिंह की भी एसपीजी सुविधा हटाई गई है.

इन तीन सदस्यों के पास एसपीजी
स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG ) गांधी परिवार में फिलहाल सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को दी गई है. गृह मंत्रालय की बैठक में यह फैसला भी लिया गया है कि अब से एसपीजी की सुरक्षा सिर्फ पीएम समेत कुछ VVIP को ही दी जाएगी. इससे पहले भी सरकार की ओर से निर्देश दिए गए थे कि विदेश यात्रा के दौरान एसपीजी सुरक्षाकर्मियों को साथ ले जाना अनिवार्य होगा. हालांकि अब सरकार ने एसपीजी की सुरक्षा ही हटा दी है.

खतरे का आंकलने करने के बाद फैसला
केंद्र सरकार ने खतरे का आकलन करने के बाद पाया कि गांधी परिवार को किसी तरह का सीधा खतरा नहीं है. राजीव गांधी की 1991 में हत्‍या के बाद फैसला किया गया कि पूर्व प्रधानमंत्रियों को भी एसपीजी सुरक्षा दी जाएगी. हालांकि, पूर्व प्रधानमंत्रियों के सुरक्षा इंतजामों की समय-समय पर समीक्षा की जाती है और जरूरत के मुताबिक उसे घटाया जाता है.

इसी साल अगस्‍त में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की एसपीजी सुरक्षा भी हटा ली गई थी. एसपीजी सुरक्षा हटाने से पहले प्रियंका गांधी को नोटिस भेजकर उनके बंगले को लेकर भी सवाल पूछा गया था. इस पर उन्‍होंने कहा था कि उन्‍हें बंगला छोड़ने में कोई दिक्‍कत नहीं है.
Web Title : MODI GOVTS BIG DECISION: GANDHI FAMILY WONT GET SPG SECURITY

Post Tags: