ECL कापासारा आउटसोर्सिंग कोलियरी प्रबंधन द्वारा ग्रामीणों के ऊपर झूठा केस दर्ज करने पर अरूप चटर्जी ने जताया विरोश, कहा केस नही हटा तो होगा आंदोलन

निरसा(बंटी झा) : मुगमा स्थित बंगाल बिहार धौड़ा के ग्रामीणों द्वारा ईसीएल कापासारा आउटसोर्सिंग कोलियरी में हैवी ब्लास्टिंग से जानमाल का खतरा का विरोध कर रहे लोगों को पर प्रबंधन ने झूठा केस दर्ज किया है. यह आरोप लगाते हुए नाराज ग्रामीणों ने पूर्व विधायक अरूप चटर्जी के साथ सोमवार को धौड़ा में बैठक किया. जिसमें दर्ज झूठा केस को वापस कराने की मांग की है. पूर्व विधायक श्री चटर्जी ने कहा कि कुछ दिन पूर्व कोलियरी में ब्लास्टिंग किए जाने से दो बच्चे घायल हो गये थे और ग्रामीणों ने इसका जमकर विरोध किया था. इस मामले में प्रबंधन ने स्थानीय लोगों पर झूठा केस दर्ज कर दिया है. इस संबंध में प्रबंधन से वार्ता कर झूठा केस वापस लेने की मांग की जायेगी. साथ ही जो रैय्यत माइनिंग एरिया में है उनको हटाने से पहले कंपनी के नियमानुसार उचित मुआवजा दिलाने की अविलंब पहल करने की बात भी रखी जायेगी. कहा कि ब्लास्टिंग से  ग्रामीणों की जान माल की सुरक्षा की गारंटी प्रबंधन को लेनी होगी. यदि प्रबंधन इन मुद्दों पर जल्द ही सकारात्मक पहल नहीं करती है तो जोरदार आंदोलन किया जाएगा.

Web Title : ARUP CHATTERJEE EXPRESSES DISPLEASURE OVER ECL KAPASARA OUTSOURCING COLLIERY MANAGEMENT FILING FALSE CASE AGAINST VILLAGERS

Post Tags: