आने वाले प्रवासी मजदूरों के लिए इंस्टीट्यूशनल क्वॉरेंटाइन सेंटर तैयार रखने का निर्देश

धनबाद. वैश्विक महामारी की दूसरी लहर में अन्य प्रदेश से धनबाद आने वाले प्रवासी मजदूरों को इंस्टीट्यूशनल क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखा जाएगा.

इस संबंध में उपायुक्त सह अध्यक्ष, जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार, धनबाद श्री उमा शंकर सिंह ने बताया कि गृह, कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग (आपदा प्रबंधन प्रभाग) झारखंड, रांची के से प्राप्त निर्देश के अनुसार अन्य प्रदेशों से धनबाद आने वाले प्रवासी मजदूरों को इंस्टीट्यूशनल क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखा जाएगा तथा उनकी आरएटी से कोविड जांच की जाएगी.  

कोविड जांच में नेगेटिव मिलने वाले लोगों को 7 दिन के लिए इंस्टीट्यूशनल क्वॉरेंटाइन सेंटर पर रखा जाएगा. 7 दिन के बाद पुनः आरएटी से जांच की जाएगी. नेगेटिव मिलने पर उन्हें घर भेजा जाएगा. जांच में पॉजिटिव मिलने वाले प्रवासी मजदूरों को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के प्रोटोकॉल के अनुसार इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा.

उपायुक्त ने बताया कि सभी अंचल अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में विगत वर्ष की तरह इस बार भी कम से कम 2 क्वॉरेंटाइन सेंटर भोजन, पानी, बिजली व अन्य बुनियादी सुविधओं के साथ 24 घंटे के अंदर तैयार करने का निर्देश दिया है.

Web Title : INSTRUCTIONS TO KEEP INSTITUTIONAL QUARANTINE CENTRES READY FOR INCOMING MIGRANT LABOURERS

Post Tags: