लंदन से डॉ परिन सोमानी का धनबाद भ्रमण गुलगुलिया समुदाय व आदिवासियों के बारे में जाना

धनबाद. लंदन में बसी भारतीय मूल की महिला डॉ परिन सोमानी (अंतरराष्ट्रीय स्तर की मोटिवेशनल स्पीकर तथा  सामाजिक कार्यों के लिए कई देशों की अम्बेसडर आॅफ पीस) इन दिनों

गुलगुलिया समुदाय तथा आदिवासी बस्तियों के बारे में जानने हेतु दिल्ली में सिनीयर पत्रकार धनबाद की प्रीति पूजा के साथ धनबाद आई है.

शनिवार को विधायक राज सिन्हा के साथ उन्होंने दामोदरपुर आदिवासी बस्ती तथा भुदा गुलगुलिया बस्ती का भ्रमण किया. आदिवासी समुदाय ने परंपरागत बाजा, नृत्य, गान और भोजन के साथ उनका स्वागत किया.  

डॉ सोमानी ने कहा कि शहरी और औद्योगिक करण के दौर में आदिवासी संस्कृति को बचाना चुनौतीपूर्ण है.

धनबाद में शहरीकरण के बावजूद आदिवासी संस्कृति जिन्दा है. यह काबिले तारीफ है.

गुलगुलिया बस्तियों पर उन्होंने कहा कि गुलगुलिया समुदाय की हालत उम्मीद से अधिक खराब है. प्रीति पूजा ने लंदन में ही इस समुदाय के बारे में बताया था. इस समुदाय के उत्थान के लिए तत्काल उनकी पढ़ाई की व्यवस्था शुरू की जाएगी. लोगों के साथ विचार विमर्श कर उनके उत्थान के लिए बड़े कार्यक्रम किये जायेंगे.

उन्होंने गुलगुलिया समुदाय के लिए काम कर रहे अनिल पांडेय के कार्यों की सराहना की. राज सिन्हा को उन्होंने आदर्श विधायक बताया.  

उन्होंने कहा कई विदेशों में भी ट्रेडिशनल आदिवासी परंपरा को नजदीक से देखा उसे महसूस किया. भारतीय मूल के आदिवासियों की संस्कृति सभ्यता को देख गर्व होता है. आदिवासी महिलाएं अपनी परंपरा को संजोए रखा है. अच्छी बात है.  

आगे कहा महाराष्ट्र में जन्मी एवं गुजरात मे पली बढ़ी हूं. 15 सालों तक सोशल एक्टिविटी से जुड़ी रही. शादी के बाद लंदन जा बसी.  

विधायक राज सिन्हा ने कहा कि आदिवासी समुदाय प्रगति कर रहा है. गुलगुलिया समुदाय के लिए गंभीर प्रयास करने होंगे. स्वयं भी इस समुदायों की प्रगति के लिए प्रयासरत रहा. पूरे आयोजन में संजय झा, मुखिया हांसदा, मनोज मालाकार साथ थे.

Web Title : VISIT OF DR. PARIN SOMANI FROM LONDON TO DHANBAD ABOUT GULGULIA COMMUNITY AND ADIVASIS

Post Tags: