हलधर को मिला जनसमर्थन, राजगंज को प्रखंड बनाओ की मांग को लेकर जुटा लोगों का हुजूम

राजगंज. पटलनटांड़ मैदान में राजगंज को प्रखंड बनाओ की मांग को लेकर गुरूवार को एक दिवसीय धरना दिया गया. राजगंज सहित बागदाहा, गोबिंदाडीह, धावाचिता, महेशपुर इत्यादि पंचायतो के अलावे तोपचांची इलाके से सैकड़ो की संख्या में लोग पहुंचकर नया प्रखंड की मांग की आवाज को बुलंद किया.

प्रदर्शन स्थल उस जगह (पलटन टांड) को चुना गया जिस जगह तत्कालीन मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा एवं वर्तमान सरकार का मुखिया हेमंत सोरेन ने अपना सरकार बनते ही राजगंज को प्रखंड बना देने की घोषणा किया था.   

2018 में घनबाद में रघुवर दास ने कहा था कि रांची वापस जाते ही नया प्रखंड बनाने की घोषणा कर दी जाएगी. कार्यक्रम में सैकड़ो की संख्या में  महिलाएओं की भागीदारी नारी शक्ति को प्रदर्शित किया. दो दशक से चली आ रही यह मांग को लेकर उपस्थित जनसमूह चिलचिलाती धूप को फीका कर दिया.

कार्यक्रम का नेतृत्वकर्ता पूर्व विधायक के पूर्व प्रतिनिधि हलधर महतो ने कहा कि राजगंज को नया प्रखंड बनाने की सभी अहर्ताओ को पूरा करता है. सरकार के गाइडलाइन के  अनुसार नया प्रखंड के लिए 18 पंचायत होना चाहिए. बाघमारा में  61 पंचायतें है.  

इसमें से 16 एवं तोपचांची से 2 पंचायत ढांगी ओर नेरो को मिलाकर 18 पंचायतो को मिलाकर नया प्रखंड का पूर्व से प्रस्तावित है. जनसंख्या 1 लाख 35 हजार है. नया प्रखंड की दूरी 25 किमी होना चाहिए. जबकि राजगंज से बाघमारा की दूरी 35 किमी से अधिक है.  

हलधर ने आरोप लगाया कि साजिश के तहत राजगंज को प्रखंड का दर्जा नही दिया जा रहा है. इन्होंने कहा कि धरना से आंदोलन की शुरुआत हुआ. उपस्थित लोगों से कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का नंबर सभी को दे दिया जाएगा. शोसल मीडिया में माध्यम से हक की लड़ाई लड़ी जाएगी. प्रतिदिन दस लोग इनके मोबाइल से बात कर नया प्रखंड बनाने के लिए आग्रह करेंगे. साथ ही प्रतिदिन ट्यूट कर किए गए वादे को याद दिलाएंगे.      अगर जनता का मांग नही सुना गया तो बीडीओ, सीओ एवं जिला मुख्यालय के पदाधिकारियों का घेराव किया जाएगा. जरूरत पड़ने पर मुख्यमंत्री को भी नही छोड़ा जाएगा.  

आजसू जिला अध्यक्ष मंटू महतो ने कहा कि 1982 से राजगंज को प्रखंड बनाने की मांग किया जा रहा है. 7 एवं 11 पंचायत मिलाकर नया प्रखंड बन सकता है तो 18 पंचायत में राजगंज को प्रखंड का दर्जा क्यो नही दिया गया. उदाहरण के रूप में पूर्वी टुंडी एवं एग्यारह कुंड पंचायत है.

इन्होंने पक्ष एवं विपक्ष से सवाल किया की सभी अहर्ता पूरा करने के वावजूद राजगंज को प्रखंड अब तक क्यो नही बनाया गया. इन्होंने कहा कि राजगंज प्रखंड झारखंड का पुरोधा स्व बिनोद बाबू से जुड़ा हुआ है.  

प्रस्तावित राजगंज प्रखंड बनाओ की मांग को लेकर राजगंज कतरास रोड, तोपचांची एवं बरवाअड्डा रोड से जुलूस लेकर लोग धरना स्थल पर पहुंचे.  

कार्यक्रम को हलधर महतो, मंटू महतो के अलावे राहुल महतो, बगदाहा मुखिया समरी देवी, गोबिंदाडीह मुखिया प्रतिनिधि रउफ अहमद आदि ने संबोधित किया. मौके पर वाणी देवी, सदानंद महतो,शेखर महतो, नरेश महतो, मीणा कुमारी, खुशबू कुमारी, नारायण महतो, प्रदीप बेसरा आदि लोग मौजूद थे.

Web Title : HALDHAR GETS PUBLIC SUPPORT, RAJGANJ PEOPLE MOBILIZED TO DEMAND A BLOCK

Post Tags: