सस्पैंड और लोन से परेशान शासकीय कर्मी ने फांसी लगाकर दी जान

बालाघाट. नगर के चित्रगुप्त नगर वार्ड नंबर 6 निवासी 42 वर्षीय ब्रम्हानंद पिता टिकाराम पटले का शव आज घर में फांसी पर लटका मिला. जिसकी सूचना के बाद कोतवाली पुलिस ने घटनास्थल पहुंचकर शव को बरामद कर उसे पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय में भिजवाया. बताया जाता है कि ब्रम्हानंद पटले विगत काफी समय से मानसिक रूप से परेशान थे. चूंकि कार्य पर नहीं जाने के कारण उन्हें विभागीय तौर पर सस्पैंड कर दिया गया था. वहीं मकान बनाते वक्त लिया गया होम लोन को पटाने की चिंता भी थी. संभवतः जिसके चलते ही ब्रम्हानंद ने आज फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

परिजनांे की मानें तो आज विगत कुछ दिन पहले ब्रम्हानंद एकाएक घर से लापता हो गये थे. 15 दिनों बाद वह पत्नी के सहेली के घर में मिले. इस दौरान परिजनों ने उनकी गुमशुदगी की शिकायत कोतवाली पुलिस में की थी. जिसके बाद से वह घर में गुमसुम से रहने लगे थे. आज 10 जनवरी को वह खाना खाने के बाद घर में ही थे और पत्नी आभा पटले ने बताया कि पति ब्रम्हानंद खाना खान के बाद घर में थे और वह छत पर चली गई थी. जब वह नीचे उतरी तो उसने देखा कि पति ब्रम्हानंद घर में फांसी पर लटके हुए थे. जिसकी सूचना उसने पड़ोसियों और रिश्तेदारो को दी.  

घटना की जानकारी के बाद कोतवाली पुलिस ने घटनास्थल पहुंचकर फांसी पर लटके ब्रम्हानंद का शव बरामद किया. बताया जाता है कि ब्रम्हानंद के दो पुत्र है एक 12 वीं और दूसरा 7 वीं कक्षा में पढ़ता है. बहरहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच में लिया है.

Web Title : THE SUSPENDING AND THE LONE BELEAGUERED GOVERNMENT PERSONNEL WERE HANGED BY