छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश का ईनामी नक्सली मुन्ना गिरफ्तार, सहयोगी संगम सदस्य भी पकड़ाया-बालाघाट पुलिस को मिली सफलता

बालाघाट. जिले में नक्सली उन्मूलन में लगी बालाघाट पुलिस को हार्डकोर नक्सली और सहयोगी संगम सदस्य को गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता मिली है. पुलिस ने छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले में भावे के रहने वाले तांडा और विस्तार दलम में सक्रिय हार्डकोर नक्सली 42 वर्षीय मुन्नालाल वरकड़े पिता फागुलाल वरकड़े को गिरफ्तार किया है. जिसकी गिरफ्तारी पर छत्तीसगढ़ सरकार ने 3 लाख और मध्यप्रदेश ने एक लाख रूपये का ईनाम घोषित किया था. पुलिस ने हार्डकोर नक्सली मुन्नालाल वरकड़े के साथ ही नक्सली सहयोगी संगम सदस्य भावे निवासी 47 वर्षीय इंदल पिता नाथु को पकड़ा है. जिस पर भी 25 हजार रूपये का ईनाम घोषित था. पुलिस को मिली इस बड़ी सफलता पर पुलिस लाईन में आयोजित सभागार में पुलिस महानिरीक्षक के. पी. व्यंकटेशराव ने यह जानकारी दी. इस दौरान पुलिस उपमहानिरीक्षक इरशाद वली, पुलिस अधीक्षक जयदेवन ए और एसडीओपी अखिल पटेल मौजूद थे.  

मुठभेड़ के बाद भागते समय पकड़ाया नक्सली 

पुलिस अधीक्षक जयदेवन ए को जानकारी मिली थी कि तांडा दलम के 15-20 नक्सली जिले के देवरबेली चौकी अंतर्गत छत्तीसगढ़ सीमा से लगे जंगल में कैंप कर रहे है. जिसकी जानकारी पुलिस अधीक्षक जयदेवन ए द्वारा वरिष्ठ अधिकारी पुलिस महानिरीक्षक के. पी. व्यंकटेशराव और उपपुलिस महानिरीक्षक ईरशाद वली को दी. जिसके बाद  पुलिस महानिरीक्षक द्वारा नक्सलियों को पकड़ने बनाई गई. ऑपरेशन नक्सल के तहत पुलिस, अदम्य साहस का परिचय देते हुए बारिश के बावजूद कैंप कर रहे नक्सली तक पहुंची, इस दौरान ही पहाड़ी पर नक्सलियों ने पुलिस को देखते ही उन पर फायरिंग शुरू कर दी. जिसका जवाब देते हुए पुलिस ने नक्सलियों को कैंप से पीछे धकेलते हुए उनका पीछा किया. पुलिस से बचने भागते समय पहाड़ पर चढ़ने के दौरान नक्सली मुन्नालाल वरकड़े और संगम सदस्य इंदल गिर पड़े. जिन्हें पुलिस ने घेराबंदी कर दबोच लिया. पकड़ाये गये नक्सली के पास हथियार थे. जबकि शेष नक्सली भागने में सफल रहे.  

नक्सलियों की गोली के जवाब में पुलिस ने चलाई 105 राउंड गोली

देवरबेली चौकी के छत्तीसगढ़ की सीमा से लगे घने जंगलो की पहाड़ी पर कैंप कर रहे नक्सलियों को पकड़ने गई बालाघाट पुलिस को देखकर नक्सलियों पर पुलिस को मारने की नियत से नक्सलियों ने पुलिस पार्टी पर गोलियों से हमला बोल दिया. जिसके जवाब में पुलिस ने भी जवाबी कार्यवाही करते हुए नक्सलियों को मारने गोलियां चलाई. इस मुठभेड़ में नक्सलियांे ने 40 से 50 राउण्ड फायरिंग की. जिसके जवाब में पुलिस ने 105 राउण्ड फायर किये.  

बड़ी मात्रा में नक्सली सामाग्री बरामद

पुलिस ने कैंप और पकड़ाये गये हार्डकोर नक्सली से भरमार रायफल, कुल्हाड़ी, चाकु, हरे रंग की वर्दी, टार्च, प्रोजेक्टर लाईट, भगोना, नक्सल साहित्य, चमचा, पानी की जरीकेन, कंबल, चादर, थैला, पॉलीथीन, पीठ्ठु बैग, चप्पल, टूथ ब्रश, गन पाउडर, एसएसआर राउण्ड, एके-47 के राउंड सहित अन्य नक्सली सामाग्री बरामद की है. जिसमें नक्सलियांे के खिलाफ लांजी में धारा 307, 353, 147, 148, 149 ताहि. एवं 25,27 आर्म्स एक्ट और 13 विधि विरूद्ध क्रिया कलाप अधिनियम के तहत अपराध दर्ज कर जांच में लिया है.

तांडा और विस्तार दलम में सक्रिय था नक्सली मुन्नालाल

छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश के ईनामी नक्सली मुन्नालाल वरकड़े की गिरफ्तारी को नक्सल विरोधी अभियान में महत्वपूर्ण बताते हुए पुलिस महानिरीक्षक के. पी. व्यंकटेशराव ने बताया कि नक्सली मुन्नालाल विगत 17 वर्षो से सक्रिय नक्सली है. पुलिस को इनपुट मिले थे कि जिले में नक्सली कैंप कर रहे है और 15 के बालक, बालिकाओं को नक्सली गतिविधियों में शामिल करने के प्रयास कर रहे है और ट्रेर्निंग दे रहे है. इस तरह के इनपुट के बाद लगातार जंगलो में बालाघाट पुलिस द्वारा चलाये जा रहे नक्सल विरोधी अभियान के तहत जंगलो में जिला पुलिस बल एवं हॉकफोर्स द्वारा सर्चिंग की जा रही थी. जिसमें मिली एक सूचना के बाद पुलिस, देवरबेली के जंगलो में चल रहे नक्सलियों के कैंप तक पहुंची, जहां पुलिस से नक्सलियों की आमने-सामने की मुठभेड़ में भागते हुए नक्सली और सहयोगी संगम सदस्य को गिरफ्तार किया गया है.  

हार्डकोर नक्सली मुन्नालाल से और जानकारी मिलने की संभावना

बालाघाट पुलिस के हत्थे चढ़े तांडा और विस्तार दलम के सक्रिय नक्सली मुन्नालाल वरकड़े पर मुखबिर की हत्या, आगजनी सहित अन्य नक्सली गतिविधियों में शामिल होने के अपराध दर्ज है और जिस तरह से वह सक्रिय था, उससे पुलिस को आशंका है कि नक्सली मुन्नालाल वरकड़े से नक्सलियों से संबंधित और भी जानकारी मिल सकती है. जिसे पुलिस ने न्यायालय में पेश कर रिमांड पर लिया है. जिसमें पुलिस नक्सलियों से संबंधित जानकारी को लेकर पूछताछ करेगी. पुलिस का मानना है कि पूछताछ में और भी कई जानकारी मिल सकती है.


Web Title : INAMI NAKASALI TOT OF CHHATTISGARH AND MADHYA PRADESH, ASSOCIATE MEMBER ALSO PAKADAYA BALAGHAT POLICE SUCCESS